भारत की महत्वपूर्ण पर्वत चोटियाँ

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
WhatsApp Channel Join Now


भारत एक विविध और विशाल भूगोल वाला देश है, जिसमें विभिन्न प्रकार की प्राकृतिक संरचनाएँ और स्थल शामिल हैं। इन्हीं में से एक हैं भारत की महत्वपूर्ण पर्वत चोटियाँ। हिमालय के ऊँचे और बर्फीले शिखरों से लेकर पश्चिमी घाट और पूर्वी घाट के घने जंगलों तक, भारत की पर्वत चोटियाँ प्राकृतिक सौंदर्य, साहसिक गतिविधियों, और सांस्कृतिक महत्व से भरपूर हैं। इन चोटियों ने सदियों से पर्यटकों, पर्वतारोहियों, और श्रद्धालुओं को आकर्षित किया है। इस लेख में, हम भारत की प्रमुख पर्वत चोटियों का परिचय देंगे, जो अपने अद्वितीय भौगोलिक स्थिति, ऐतिहासिक महत्व, और प्राकृतिक सौंदर्य के लिए जानी जाती हैं।

भारत की महत्वपूर्ण पर्वत चोटियाँ

भारत में कई महत्वपूर्ण पर्वत चोटियाँ हैं जो अपनी ऊँचाई, प्राकृतिक सौंदर्य, और सांस्कृतिक महत्व के लिए जानी जाती हैं। ये पर्वत चोटियाँ हिमालय, कराकोरम, और अन्य पर्वत श्रृंखलाओं का हिस्सा हैं। यहाँ भारत की कुछ प्रमुख पर्वत चोटियों की सूची दी गई है:

भारत की महत्वपूर्ण पर्वत चोटियाँ
पर्वत शिखर ऊंचाई विवरण
K2 8611 मीटर
  • भारतीय उपमहाद्वीप की सबसे ऊँची चोटी बाल्टिस्तान और झिंजियांग के बीच स्थित है।
  • यह काराकोरम की सबसे ऊँची चोटी है।
कंचनजंघा 8586 मीटर
  • विश्व का तीसरा सबसे ऊँचा शिखर।
  • इसे ‘बर्फ के पांच खजाने’ के रूप में भी जाना जाता है।
  • हिमालय पर्वत श्रृंखला में स्थित है।
नंदा देवी 7816 मीटर
  • दुनिया भर में 23वीं सबसे ऊंची चोटी का दर्जा प्राप्त है।
  • शिखर के आसपास स्थित नंदा देवी राष्ट्रीय पार्क में सर्वोत्तम ऊंचाई वाली वनस्पतियां और जीव-जंतु मौजूद हैं।
  • यह पूरी तरह से भारत के भीतर स्थित सबसे ऊंची चोटी है।
  • यह हिमालय पर्वत श्रृंखला (गढ़वाल) का एक हिस्सा है।
कामेत पर्वत 7756 मीटर
  • यह तिब्बती पठार के पास स्थित है।
  • यह गढ़वाल क्षेत्र में स्थित है।
साल्टोरो कांगड़ी 7742 मीटर
  • यह सियाचिन क्षेत्र के पास स्थित है।
  • साल्टोरो कांगड़ी को दुनिया की 31वीं सबसे ऊंची स्वतंत्र चोटी का दर्जा दिया गया है।
  • यह साल्टोरो रेंज (काराकोरम पर्वत श्रृंखला का एक हिस्सा) में स्थित है।
सासेर कांगड़ी 7672 मीटर
  • लद्दाख में स्थित है.
  • यह पर्वत शिखर विश्व की 35वीं सबसे ऊंची पर्वत चोटी है।
  • यह सासेर मुजताघ रेंज (काराकोरम रेंज की सबसे पूर्वी उपश्रेणी) में स्थित है।
ममोस्तोंग कांगड़ी/ममोस्तोंग कांगड़ी 7516 मीटर
  • यह सियाचिन ग्लेशियर के पास स्थित है।
  • यह भारत की 48वीं स्वतंत्र चोटी है।
  • यह रिमो मुजताघ श्रेणी (काराकोरम श्रेणी की एक उपश्रेणी) की सबसे ऊंची चोटी है
रिमो I 7385 मीटर
  • रिमो I ग्रेट काराकोरम रेंज की एक उपश्रेणी रिमो मुजताघ का एक हिस्सा है।
  • यह दुनिया की 71वीं सबसे ऊंची चोटी है।
हरदेओल 7151 मीटर
  • इस चोटी को ‘भगवान का मंदिर’ भी कहा जाता है।
  • यह कुमाऊँ हिमालय के सबसे पुराने शिखरों में से एक है
चौखम्बा प्रथम 7138 मीटर
  • यह उत्तराखंड के गढ़वाल जिले में स्थित है।
  • यह गढ़वाल हिमालय पर्वतमाला के गंगोत्री समूह का एक हिस्सा है
त्रिशूल I 7120 मीटर
  • इस पर्वत शिखर का नाम भगवान शिव के हथियार से लिया गया है।
  • यह उत्तराखंड में कुमाऊं हिमालय में स्थित तीन पर्वत चोटियों में से एक है।

हिमालय पर्वत श्रृंखलाएँ

हिमालय पर्वत श्रृंखला, जिसे “हिमालय” भी कहा जाता है, विश्व की सबसे ऊँची पर्वत श्रृंखला है। यह श्रृंखला भारतीय उपमहाद्वीप के उत्तरी भाग में स्थित है और उत्तर से दक्षिण की ओर फैली हुई है, जो भारत, नेपाल, भूटान, और तिब्बत के बड़े हिस्से को कवर करती है। हिमालय का नाम संस्कृत से लिया गया है, जिसका अर्थ “बर्फ का घर” है। इस पर्वत श्रृंखला का महत्त्व प्राकृतिक, सांस्कृतिक, धार्मिक, और पर्यावरणीय दृष्टि से अद्वितीय है।

हिमालय पर्वत श्रृंखला में कई उप-श्रृंखलाएँ और महत्वपूर्ण चोटियाँ शामिल हैं। यहाँ कुछ प्रमुख हिमालयी श्रृंखलाओं की जानकारी दी गई है:

  1. ग्रेट हिमालय पर्वत श्रृंखला
  2. काराकोरम और पीर पंजाल रेंज
  3. पूर्वी पर्वत श्रृंखला या पूर्वांचल रेंज
  4. सतपुड़ा और विंध्य रेंज
  5. अरावली रेंज
  6. पश्चिमी घाट
  7. पूर्वी घाट

भारत में पर्वतों की सूची

भारत में कई पर्वत और पर्वत श्रृंखलाएँ हैं, जो अपने प्राकृतिक सौंदर्य, सांस्कृतिक महत्व, और पर्यावरणीय महत्ता के लिए जानी जाती हैं। यहाँ भारत में प्रमुख पर्वतों और पर्वत श्रृंखलाओं की सूची दी गई है:

  1. हिमालय पर्वत श्रृंखला: यह विश्व की सबसे ऊँची पर्वत श्रृंखला है, जो भारत के उत्तरी भाग में फैली हुई है। इसमें कई प्रमुख चोटियाँ शामिल हैं, जैसे माउंट एवरेस्ट, कंचनजंगा, नंदा देवी, और अन्य।
  2. कराकोरम पर्वत श्रृंखला: यह श्रृंखला भारत के जम्मू और कश्मीर क्षेत्र में स्थित है। इसमें के2 (माउंट गॉडविन ऑस्टिन) शामिल है, जो विश्व की दूसरी सबसे ऊँची चोटी है।
  3. लेसर हिमालय (लघु हिमालय) या मध्य हिमालय: यह ग्रेट हिमालय के दक्षिण में स्थित है और इसमें कई महत्वपूर्ण पर्वतीय स्थल और पर्यटक आकर्षण शामिल हैं, जैसे मसूरी, शिमला, और नैनीताल।
  4. शिवालिक पर्वत श्रृंखला: यह हिमालय की सबसे निचली श्रृंखला है, जो उत्तर भारत के कई हिस्सों में फैली हुई है। यह श्रृंखला वन्यजीव और कृषि के लिए महत्वपूर्ण है।
  5. अरावली पर्वत श्रृंखला: यह भारत की सबसे पुरानी पर्वत श्रृंखला है और यह राजस्थान और हरियाणा में फैली हुई है। इसका ऐतिहासिक और सांस्कृतिक महत्व भी है।
  6. विंध्याचल पर्वत श्रृंखला: यह मध्य भारत में स्थित है और उत्तर और दक्षिण भारत के बीच प्राकृतिक विभाजन का काम करती है। यह श्रृंखला धार्मिक महत्व के लिए भी जानी जाती है।
  7. सातपुड़ा पर्वत श्रृंखला: यह मध्य भारत में स्थित है और वन्यजीवों और प्राकृतिक सुंदरता के लिए प्रसिद्ध है। इस श्रृंखला में पचमढ़ी, जो एक प्रसिद्ध हिल स्टेशन है, स्थित है।
  8. नीलगिरी पर्वत श्रृंखला: यह दक्षिण भारत में स्थित है और यहाँ ऊटी, कोडाईकनाल, और कूर्ग जैसे लोकप्रिय हिल स्टेशन हैं।
  9. पश्चिमी घाट और पूर्वी घाट: पश्चिमी घाट भारत के पश्चिमी तट पर फैला हुआ है और इसमें कई वन्यजीव अभयारण्य और राष्ट्रीय उद्यान शामिल हैं। पूर्वी घाट भारत के पूर्वी तट पर स्थित है और यह आंध्र प्रदेश, ओडिशा, और तमिलनाडु तक फैला हुआ है।
  10. अनाईमुडी (Anamudi): यह केरल में स्थित है और दक्षिण भारत का सबसे ऊँचा पर्वत है।

भारत की राज्यवार सबसे ऊंची पर्वत चोटियाँ

भारत में प्रत्येक राज्य की भौगोलिक विविधता और प्राकृतिक सुंदरता अद्वितीय है। कुछ राज्यों में हिमालय और अन्य पर्वत श्रृंखलाएँ हैं, जहाँ सबसे ऊँची पर्वत चोटियाँ स्थित हैं। नीचे भारत के कुछ प्रमुख राज्यों में स्थित सबसे ऊँची पर्वत चोटियों की सूची दी गई है:

भारत की राज्यवार सबसे ऊंची पर्वत चोटियाँ
चोटी राज्य रेंज/क्षेत्र ऊंचाई 
अरमा कोंडा आंध्र प्रदेश पूर्वी घाट 1680 मी
कांग्टो अरुणाचल प्रदेश पूर्वी हिमालय 7060 मी
सोमेश्वर किला बिहार पश्चिमी चंपारण जिला 880 मी
बैलाडिला रेंज छत्तीसगढ दंतेवाड़ा जिला 1276 मी
सोंसोगोर गोवा पश्चिमी घाट 1166 मी
गिरनार गुजरात जूनागढ़ जिला 1069 मी
करोह चोटी हरयाणा मोरनी हिल्स 1467 मी
रेओ पुर्ग्यिल हिमाचल प्रदेश पश्चिमी हिमालय 6816 मी
पारसनाथ झारखंड पारसनाथ पहाड़ियाँ 1370 मी
मुल्लायनगिरी कर्नाटक पश्चिमी घाट 1930 मी
अनामुडी केरल पश्चिमी घाट 2695 मी
धूपगढ़ मध्य प्रदेश सतपुड़ा 1350 मी
कल्सूबाई महाराष्ट्र पश्चिमी घाट 1646 मी
माउंट इसो मणिपुर और नागालैंड की सीमा सेनापति जिला 2994 मी
शिलांग पीक मेघालय खासी पहाड़ियाँ 1965 मी
फौंगपुइ राष्ट्रीय उद्यान मिजोरम सैहा जिला 2157 मी
सारामती पर्वत नगालैंड नागा हिल्स 3826 मी
देवमाली ओडिशा पूर्वी घाट 1672 मी
गुरु शिखर राजस्थान Rajasthan अरावली पर्वतमाला 1722 मी
कंचनजंगा सिक्किम पूर्वी हिमालय 8586 मी
डोडाबेट्टा तमिलनाडु नीलगिरि पहाड़ियाँ 2637 मी
डोली गुट्टा तेलंगाना और छत्तीसगढ़ की सीमा दक्कन का पठार 965 मी
बीटालॉन्गचिप त्रिपुरा जम्पुई हिल्स 930 मी
अम्सोट पीक उत्तर प्रदेश शिवालिक पहाड़ियाँ 945 मी
नंदा देवी उत्तराखंड गढ़वाल हिमालय 7816 मी
संदक्फू चोटी पश्चिम बंगाल पूर्वी हिमालय 3636 मी

Sharing is caring!

You Can Translate it in Your Language By Exiting Mobile Version
WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
WhatsApp Channel Join Now

Leave a Comment